ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
ट्रंप की मौजूदगी में आतंक
November 26, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

ट्रंप की मौजूदगी में आतंक पर पाक को मोदी की खरी-खरी

टेक्सास। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका के ह्यूस्टन में हाउडी मोदी में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बाद अपने चिरपरिचित अंदाज में भाषण का आगाज किया। 50 हजार लोगों को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि आतंकवाद पर निर्णायक लड़ाई का वक्त आ गया है तो ट्रंप ने भी कहा कि भारत के साथ मिलकर इस्लामिक आतंकवाद से लड़ेंगे। उन्होंने कहा 'हाउडी माई फ्रेंड्स, ये जो माहौल है व अकल्पनीय है। आज हम यहां नई हिस्ट्री के साथ केमेस्ट्री भी देख रहे हैं। एनआरजी की एनर्जी भारत-अमेरिका की बढ़ती सिनर्जी की गवाह है। ये मोदी अकेले नहीं है। हाउडी मोदी का जवाब ये है कि भारत में सब अच्छा है। मोदी ने कहा कि इस कार्यक्रम के लिए बड़ी संख्या में लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा- 'मोदी को 60 करोड़ भारतीयों ने जीत दिलाई' : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने संबोधन संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा, "अमेरिका के सबसे भरोसेमंद और अच्छे दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यहां मौजदगी का मैं स्वाग मोदी भारत के लिए अच्छा काम कर रहे हैं। उनका इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में मौजूद होना सम्मान की बात है। अमेरिका में बसे भारतीय अमेरिका की तरक्की के लिए काम कर रहे हैं। कुछ ही महीनों पहले 60 करोड़ भारतीयों ने दुनिया के सबसे बडे चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी और उनकी पार्टी को जीत दिलाई। आपको बधाई। (60 करोड़) यह बहुत बड़ी संख्या है। आपको जन्मदिन की भी शुभकामनाएं (मोदी का 17 सितंबर को जन्मदिन था)।"

कट्टर इस्लामिक आतंकवाद चुनौती

आतंकवाद चुनौती अपने भाषण में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प कहा कि आज के समय में कट्टर इस्लामिक आतंकवाद सबसे बड़ी चुनौती है। भारत और अमेरिका इससे मिलकर लड़ेंगे। मोदी ने कहा कि ये असाधारण और अभूतपूर्व क्षण है। हम जब कभी आपस में मिले, उनका रवैया हमेशा अच्छा और सकारात्मक रहा। ट्रम्प ने अमेरिकी अर्थव्यवस्था को दोबारा मजबूत बना दिया है।

भारतीयों ने अमेरिका को गर्व महसूस कराया है

ट्रम्प ने कहा, “प्रधानमंत्री और मैं यहां हर उस चीज का जश्न मनाने आए हैं, जो भारतीयों और अमेरिकियों को एकजुट करती है। अमेरिका में 40 लाख भारतीयों पर हमें गर्व है। आपने भी अमेरिका को गर्व महसूस कराने में योगदान दिया है। मेरा प्रशासन आपके लिए हमेशा मौजूद है।"

indiatoday