ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
तीन बदमाश गिरफ्तार
November 28, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

मुठभेड़ के बाद संदीप उर्फ ढिल्लू गैंग के तीन बदमाश गिरफ्तार

नजफगढ़-ढांसा रोड पर बुधवार सुबह स्पेशल सेल की संदीप उर्फ ढिल्लू गैंग से मुठभेड़ हुई। पुलिसकर्मियों ने जैसे ही वह एक कार को रुकवाने की कोशिश की तो दोनों तरफ से गोलियां बरसने लगी। एक गोली इंस्पेक्टर के सीने पर लगी लेकिन भाग्यवश उसने बुलेट प्रूफ जैकेट पहनी हुई थी। इस पर पुलिस ने जवाबी फायरिंग की और फिर कुछ ही देर बाद तीन बदमाशों को दबोच लिया गया। इनमें दो को पुलिस की गोली लगी। एक पैर पर और दूसरा हाथ पर गोली लगने से घायल हुआ है। पुलिस जांच में पता चला कि बदमाशों पर लूटपाट, रंगदारी और अन्य अपराध के कई मुकदमे दर्ज थे। इनके पास से तीन पिस्टल और 10 कारतूस बरामद हुये हैं। डीसीपी संजीव कुमार यादव ने बताया कि पकड़े गये बदमाश लूटपाट और कारोबारियों से उगाही के लिए कुख्यात संदीप उर्फ ढिल्लू के साथी हैं। इनके नाम सुरजीत उर्फ पोलू, प्रमोद उर्फ सोनू और निशांत उर्फ निशू है। तीनों होंडा अकोर्ड कार में सवार थे। गोली लगने से सुरजीत और प्रमोद घायल हुये हैं। प्रमोद शार्पशूटर है वहीं सुरजीत ढिल्लू का सबसे खास गुर्गा है। फरवरी 2018 में ढिल्लू को मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज से पुलिस हिरासत से छुड़ाने में सुरजीत व प्रमोद ही शामिल थे। वहीं निशांत ने हाल ही में गैंग ज्वाइन किया था। डीसीपी के मुताबिक दरअसल सूचना मिली थी कि दोनों बदमाशों के साथ ढिल्लू भी कार में सवार होकर झज्जर से मेन ढांसा- नजफगढ़ रोड पर आएंगे। इनकी गाड़ी का नंबर भी पुलिस को मुखबिर से पता चला था। इसके बाद बुधवार सुबह करीब साढ़े चार बजे इंस्पेक्टर तिलक चंद बिष्ट के टीम ने ट्रैप लगाया और इस मुठभेड़ में दोनों तरफ से चार-चार गोली चली, जिसमें दो बदमाश घायल हो गये। तीसरे ने सरेंडर कर दिया। सुरजीत गैंग में सरदार के नाम से फेमस है। वह करीब 20 सालों से संदीप उर्फ ढिल्लू के साथ है। वह रोहतक में पैदा हुआ और पहली बार हत्या के प्रयास केस में वर्ष 2000 में गिरफ्तार हुआ था। जेल में उसकी मुलाकात संदीप से हुई थी। प्रमोद बवाना का रहने वाला है। वह दीपक उर्फ भांजा और संजय खैरा के संपर्क में आकर अपराध की दुनिया में उतरावह भी अन्य बदमाशों के साथ संदीप से जेल में मिलने जाता था। इसी के चलते इनकी दोस्ती गाढ़ी हो गई थी। निशांत प्रमोद का पड़ोसी है। वह कुछ दिनों पहले ही प्रमोद के कहने पर संदीप के गैंग में शामिल हुआ था। प्रमोद और सुरजीत 10-10 मामलों में शामिल पाये गये हैं। वहीं निशांत तीन केस में शामिल रहा है।