ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
टीम ने देखीं बर्बाद फसलें
November 26, 2019 • जगदीश सिकरवार • राज्य व शहर

खेतों में जाकर टीम ने देखीं बर्बाद फसलें, मकानों का जायजा लिया

इस सीजन में ज्यादा बारिश से जिलेभर में कई मकानों दुकानों और फसलों को नुकसान हुआ हैबाढ़ पीड़ित इस नुकसान की भरपाई के लिए अफसरों और नेताओं का इंतजार कर रहे हैं। गुरूवार को बारिश से हुई क्षति का आंकलन करने के लिए केन्द्र से एक टीम विदिशा पहुंची। टीम ने खेत में पहुंचकर बर्बाद फसलों और क्षतिग्रस्त मकानों का मौके पर पहुंचकर मुआयना किया। टीम ने सबसे पहले कलेक्ट्रेट पहुंचकर एक बैठक की। कलेक्टर ने अत्यधिक बारिश से हुए नुकसान से जिलेभर में जो क्षति हुई है और पशु हानि, मकान दुकान को हुई हानि आदि संबंधित डाटा भी केन्द्र से आई टीम को सौंपा गया है। कलेक्ट्रेट में हुई बैठक के बाद टीम के अफसर बंटीनगर स्थित बाढ़ पीड़ितों से मिलने पहंचेअफसरों के आने की जानकारी मिलते ही कई महिलाएं बंटीनगर में सड़क पर ही पहुंच गई। इसके बाद अफसरों ने उनसे चर्चा की। टीम के अफसर मिर्जापुर गांव के पास किसानों की बर्बाद हुई फसलों का जायजा भी लिया। मिर्जापुर गांव के किसान राजीव अग्रवाल के खेत में उड़द की फसल और पारस जैन के खेत में सोयाबीन फसल की हुई क्षति का मुआयना किया। दो सदस्यीय केन्द्रीय दल ने गुरुवार को क्षेत्रों का भ्रमण कर पीड़ितों से चर्चा की। 149 पशु हानि होने पर आठ करोड़, 11876 मकानों की क्षति होने पर 118.76 करोड़, फसल क्षति सोयाबीन, उड़द, मूंग, 186772 हेक्टेयर में क्षति की अनुमानित राशि 776.61 करोड़ सड़क क्षति नगरीय ग्रामीण 555.59 किलोमीटर अनुमानित राशि 22.77 करोड़ तथा 271 पुल पुलियों की क्षति हुई है कि अनुमानित राशि 5.93 करोड़ भवन विद्यालय, पंचायत एवं समुदायिक कुल 632 क्षतिग्रस्त हुए है कि अनुमानित राशि 8. 68 करोड़,87 हेण्डपंपों, नलों की क्षति हुई है कि अनुमानित राशि 13 लाख, इसके अलावा जिले में 1137 विद्युत पोल, ट्रांसफार्मर, कंडक्टर की क्षति हुई है कि अनुमानित राशि 2. 52 करोड़ है।  केन्द्रीय दल में शामिल कृषि सहकारिता भारत सरकार के निदेशक डॉ एके तिवारी तथा केन्द्रीय रोड ट्रांसपोर्ट के एसई सुमित कुमार ने इससे पहले विधायक शशांक भार्गव से कलेक्टर के चेम्बर में चर्चा की। विधायक भार्गव ने क्षेत्र में हुए नुकसान की जानकारी से अवगत कराया। कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में बैठक में कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने केन्द्रीय दलों के सदस्यों को अवगत कराया कि जिले में अतिवृष्टि बाढ़ से प्रारंभिक तौर पर क्षति अनुमानित राशि 935 करोड़ 48 लाख की हुई है। जिले में अतिवृष्टि बाढ से 25 जनहानि के लिए एक करोड़ की राहत राशि का वितरण किया जा चुका है।  केन्द्रीय दल के सदस्यों के अलावा विधायक शशांक भार्गव को सबसे पहले सागरपलिया के समीप रहवासियों द्वारा क्षति हानि से अवगत कराया गया। दल के सदस्यों ने मिर्जापुर में राजीव अग्रवाल के खेत में उडदफसलका तथा पारस जैन के खेत में पहुंचकर सोयाबीन के नुकसान का जायजा किया। ग्राम वन में संग्राम सिंह के खेत में क्षतिग्रस्त हुई सोयाबीन फसल को देखा और पीड़ितों से चर्चा की। केन्द्रीय दल के सदस्यों द्वारा ग्राम वन में मकानों की क्षति का भी मौके पर मुआयना कर जायजा लिया गया है। यहां पीड़ित बाला प्रसाद के घर में पहुंचकर क्षति कैसे हुई के संबंध में जानकारी प्राप्त की।  दल के सदस्यों ने कलाबाई के क्षतिग्रस्त मकान को भी देखा और चर्चा कर क्षतिग्रस्त होने के कारणों को जाना। केन्द्रीय दल के सदस्यों ने पचमा गुरोद मार्ग का भी अवलोकन किया। यहां एसई सुमित कुमार ने लोक निर्माण विभाग के कार्यपालन यंत्री को निर्देश दिए कि एफडीआर योजना के तहत मरम्मत कार्य के लिए प्राक्कलन शीघ्र प्रेषित करें। भ्रमण के दौरान कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने मीडियाकर्मियों को अवगत कराया कि केन्द्रीय दल एवं जिला प्रशासन के द्वारा क्षति आंकलन की रिपोर्ट 27 सितम्बर तक राज्य सरकार के माध्यम से भारत सरकार को प्रेषित की जाएगी। उन्होंने बताया कि जिले में वर्षा एवं बाढ़ से हुए नुकसान जिसमें मुख्य रूप से फसलेंए सड़केए मकान की क्षति का दल के सदस्यों द्वारा मौके पर मुआयना कर जायजा लिया गया है। इस दौरान जिला पंचायत सीईओ मयंक अग्रवाल, अपर कलेक्टर शवृदांवन सिंह, भोपाल संभाग उपायुक्त राजस्व, किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के संयुक्त संचालक बीएल बिलैया के _ अलावा जिले के विभिन्न अधिकारी साथ मौजूद थे।  

adarshpath