ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
सीमा की बैठक
November 26, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

समय सीमा की बैठक में दिए सख्त निर्देश

कलेक्टर डॉ. श्रीनिवास शर्मा की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समय सीमा प्रकरणों की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डॉ.वरद मूर्ति मिश्रा, अतिरिक्त कलेक्टर राजेश शाही, डिप्टी कलेक्टर अजीत तिर्की सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर डॉ.शर्मा द्वारा मुख्यमंत्री कार्यालय से प्राप्त, मुख्यमंत्री के भ्रमण के दौरान प्राप्त, सीएम हेल्पलाइन एवं 'आपकी सरकार आपके द्वार' के अंतर्गत प्राप्त शिकायतों की विभागवार विस्तृत समीक्षा करते हुए त्वरित एवं गुणवत्तापूर्ण निराकरण के निर्देश दिए गए। उन्होंने एक सप्ताह में सभी प्रकरणों विशेषकर 'आपकी सरकार आपके द्वार' के अंतर्गत आवेदनों का शत-प्रतिशत निराकरण करने निर्देश दिये साथ ही कहा कि पुरानी शिकायतों का निराकरण तत्परता के साथ कराएं। बैठक में सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों का विभागवार समीक्षा करने के बाद टीएल में लंबित आवेदन जैसे वन राजस्व भूमि सीमा विवाद, किसान सम्मान निधि, खनिज मत से अतिरिक्त कर्ज, खादान्न पोर्टल चालू करने, मुख्यमंत्री स्व-रोजगार आदि से संबंधित अन्य आवेदनों पर चर्चा की गई। उन्होंने जिला आपूर्ति अधिकारी को जिले के सभी पेट्रोल पंपों की जांच कर पेट्रोल और डीजल के सेंपल लेकर उन्हें परीक्षण के लिये भेजने के निर्देश दिए। स्व-रोजगार योजनाओं की प्रगति की समीक्षा करते हुये निर्धारित लक्ष्य को समय पर पूर्ण करने के निर्देश भी दिये। बैठक में चन्हियांकला में 3 लोगों की मृत्यु की खबर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से मृत्यु के कारणों के संबंध में पूछा गया जिस पर सीएमएचओ ने बताया कि उक्त गांव में डायरिया के कोई प्रकरण नहीं मिले। मेडिकल टीम 3 दिन से लगातार जाकर बीमारी के कारणों का पता लगा रहे हैं। लार्वा का टेस्ट किया जा रहा है, वे स्वयं भी वहां गये थे साथ ही अन्य अधिकारी भी चन्हियांकला गये। पीएचई के अधिकारियों ने बताया कि चन्हियांकला गांव का पानी सही है। बैठक के दौरान कलेक्टर डॉ.शर्मा ने एक अक्टूबर को अंतर्राष्ट्रीय वृध्दजन दिवस मनाने के संदर्भ में भी संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि गोधली वृध्दाश्रम में वृध्दजनों के लिये हेल्थ कैंप करने, भोजन व्यवस्था तथा आवश्यकतानुसार कपड़े सुनिश्चित करने के साथ वृध्दजनों का सम्मान करें