ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
सरकार अभियान 2 अक्टूबर से
November 27, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

नगर सरकार आपके द्वार अभियान 2 अक्टूबर से

आगामी 7 से 27 अक्टबर तक नगरीय निकायों में नगर सरकार आपके द्वार अभियान चलाया जाएगा। इसके प्रभावी क्रियान्वयन के लिए व्यापक स्तर पर तैयारियां शुरू करने के निर्देश कलेक्टर डॉ. वीरेन्द्र सिंह रावत ने नगरीय निकायों के मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को दिए हैं। अभियान के संबंध में निर्देश देते हुए कलेक्टर डॉ. रावत ने कहा है कि नगर सरकार आपके द्वार अभियान को प्रभावी ढंग से लागू करने के लिए जिला शहरी विकास अभिकरण परियोजना अधिकारी कार्रवाई शुरू करें। आम जनता से प्राप्त आवेदन पत्रों का मौके पर निराकरण करें। शासन की प्रमुख योजनाओं तथा कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए आम जनता को इनसे लाभांवित करें। अभियान के दौरान नगर की साफसफाई, पेयजल व्यापक प्रचार-प्रसार कराए कलेक्टर ने कहा कि नगर सरकार आपके द्वार अभियान 2 अक्टूबर से आरंभ होगा और 22 अक्टूबर तक चलेगा। इसके लिए व्यापक प्रचार प्रसार भी कराएं। अभियान के क्रियान्वयन के पूर्व प्रत्येक वार्ड में शिविर के लिए स्थान का निर्धारण कर लें यदि वार्ड की जनसंख्या अधिक है तो एक से अधिक शिविर लगाएं। शिविरों की तिथियों का निर्धारण करके उसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराएं। शिविर को सफल बनाने के लिए विभिन्न अधिकारियों तथा कर्मचारियों की ड्यूटी लगाएं। शिविर के लिए स्वयं सेवकों का चयन करके उनकी सूची जारी करें। कोई भी नागरिक ई-नगर पालिका में प्रशिक्षण प्राप्त करके स्वयंसेवक बन सकता है। स्वयं सेवक का ई-नगर पालिका में ऑनलाइन पंजीयन होता है। स्वयं सेवकों को कम से कम दो घंटे का प्रशिक्षण अनिवार्य रूप से दें।शिविर में ही लाभांवित करें कलेक्टर ने कहा कि शिविर स्थल में शासन की सभी प्रमुख योजनाओं की जानकारी देने की व्यवस्था करें। पात्र हितग्राहियों के आवेदन पत्र तैयार कराकर कल्याणकारी योजनाओं से शिविर में लाभांवित करें। शिविर में स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, जलशक्ति अभियान, युवा स्वभिमान योजना, पालीथीन मुक्त बनाने के प्रयास, पर्यावरण जागरूकता तथा शहरी परिवहन पर भी आमजन से संवाद करें। शिविरों में नगर की साफसफाई, पेयजल, प्रकाश व्यवस्था के संबंध में प्राप्त आवेदन पत्रों पर कार्यवाही करने के लिए दल तैनात रखें। प्रत्येक शिविर की गई कार्यवाही का प्रतिवेदन अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करें। मान आवेदन पत्र पत्रकार्यवाहकरने केलिए