ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
पत्नी को उतार दिया मौत के घाट
November 21, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

पत्नी के चरित्र पर था शक तो उतार दिया मौत के घाट -

प्रेम नगर इलाके में एक पति ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। बाद में आरोपी ने शव के टुकड़े कर उन्हें सेफ्टी टैंक में फेंक दियावारदात के बाद आरोपी ने थाने में जाकर पुलिस को बताया कि उसने अपनी पत्नी की हत्या कर दी। पुलिस ने तुरंत उसे हिरासत में ले लिया। बाद में पुलिस ने उसकी निशानदेही पर कड़ी मशक्कत के बाद शव के टुकड़ों को 20 फीट गहरे सेफ्टी टैंक से बाहर निकाला। मृतक महिला का नाम सीमा है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर आरोपी आशू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है। जानकारी के मुताबिक, सीमा, किराड़ी प्रेम नगर इलाके में किराए के मकान पर सपरिवार रहती थी। परिवार में पति आशू और 3 बेटियां है। संगम विहार निवासी सीमा की Vurd शादी 10 वर्ष पूर्व हरदोई निवासी आशू से हुई थी। आशू मायापुरी इलाके में हार्डवेयर कंप्यूटर इंजीनियर की नौकरी करता है। सीमा के भाई संतोष ने बताया कि शनिवार रात करीब 10:30 बजे आशू ने फोन पर उसकी मां चमेली देवी को बातया कि मैंने तुम्हारी बेटी सीमा की हत्या कर दी है। जिसको सेफ्टी टैंक में फेंक दिया है। इसके बाद उन्होंने उसे वापस फोन किया तो आशू का फोन बंद जा रहा था। इस पर उन्हें लगा कि आशू ने मजाक किया है तो उन्होंने यह बात किसी को भी नहीं बताई। रविवार Vurd सुबह पड़ोसियों ने फोन कर घटना की जानकारी सीमा के मायके वालों को दी। सूचना मिलते ही परिवार मौके पर पहुंच गया। इसके बाद उन्होंने सूचना पुलिस को दीउधर, आरोपी ने खुद थाने में जाकर सरेंडर कर दिया था। पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि कुछ समय से वह अपनी पत्नी सीमा के चरित्र पर शक करता था। दोनों के बीच छोटी-छोटी बातों को लेकर झगड़ा होता था। इसी से परेशान होकर उसने अपनी पत्नी की हत्या कर दी।

चोरी के शक में विधवा महिला की पीट-पीटकर हत्या

नई दिल्ली। महरौली थाना इलाके में एक विधवा महिला की मकान मालिकव उसके परिवार ने चोरी के शक में पीट-पीटकर हत्या कर दी। मृतका का नाम मंजू गोयल (44) है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी में सुरक्षित रखवा दिया है। पुलिस अधिकारी की माने तो मृतक महिला आरोपी के घर पर किराये पर रहती है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में सतीश (54), पत्नी सरोज, बेटा पंकज (29), बहू दीपिका और नौकरानी कमलेश है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर मामले की जांच कर रही है। डीसीपी (साउथ) अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि महरौली थाना पुलिस को शनिवार शाम करीब 8-12 बजे कॉलर ने फोन कर पुलिस को बातया कि उसकी बहन को तीन-चार लोगों ने मिलकर मार दिया है। सूचना मिलते ही पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई। पुलिस को कॉलर मंजू के भाई महेश ने बताया कि उनकी बहन सतीश के यहा किराये पर रहती है। शनिवार सुबह करीब 8:15 बजे सतीश ने अपनी पत्नी को फोन कर बताया कि उनके घर में एक महिला चोरी करते हुए पकड़ी गई है। इधर, सूचना महेश को भी मिली। सूचना मिलते ही महेश सतीश के घर पहुंच गया। उसने देखा कि सतीश व उसका परिवार चोरी के आरोप में उसकी बहन मंजू को पीट रहे थे। महेश अपनी बहन को वहां से बचाकर अपने घर ले गया। घर आने के बाद मंजू ने उसे बताया कि उसके सीने में दर्द हो रहा है।शाम करीब 7:45 बजे मंजू की मौत हो गई। इसके बाद उन्होंने मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया है। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

परिवार से थी मंजू

जानकारी के मुताबिक, मंजू दिल्ली के मशहूर जिंदल कैटरर्स परिवार से थी। जिंदल कैटरर्स के मालिक मंज के भाई हैं। अपने भाइयों का फ्लेट होने के बावजूद मंजू किराए के घर में रहती थीं। अपनी बहन की माली हालत ठीक नहीं होने के कारण मंजू के भाइयों ने कई बार उनकी मदद करनी चाही लेकिन मंजू ने कभी मदद नहीं ली। वह दूसरों के घरों में जाकर खाना बनाकर अपना गुजारा करती थीं।