ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
नशे के खिलाफ धरने पर बैठे
November 22, 2019 • जगदीश सिकरवार • राज्य व शहर

जल त्यागने के बाद नशे के खिलाफ अनुरूप धरने पर बैठे प्रवीन की तबीयत बिगड़ी

नशे के विरुद्ध अनशन कर रहे तथा नशा पीड़ितों के लिए विशेष जोन घोषित न करने पर अन्न के बाद जल त्याग करने पर शनिवार देर रात प्रवीन काशी की तबीयत बिगड़ गई। प्रशासन ने एम्बुलेंस व चिकित्सकों को धरना स्थल पर बुलाकर काशी को नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया। जहां प्रवीन का ब्लड प्रेशर कम मिला व शुगर भी कम पाई गई। चिकित्सकों ने ग्लूकोज की ड्रिप लगाने का प्रयास किया लेकिन काशी के मना करने पर ओआरएस व पानी के घोल देकर स्वास्थ्य में सुधार लाया गया। रविवार को प्रवीन काशी अस्पताल में एडमिट रहे। गौरतलब है कि पिछले दिनों प्रवीन काशी ने एडीसी के समक्ष ऐलान किया था कि आचार संहिता लगने से पहले अगर सिरसा व फतेहाबाद को विशेष जोन घोषित नहीं किया तो वह अन्न के बाद जल भी त्याग देंगे। शनिवार को आचार संहिता लगी तो प्रवीन काशी ने जल त्यागने की घोषणा कर दी। दोपहर करीब अढ़ाई बजे चिकित्सकों की टीम धरना स्थल पर पहुंची। प्रवीन काशी ने मौके पर ही डॉक्टर अमित चुघ को लिखित में दे दिया कि वह जल त्याग चुके हैं, अगर उन्हें कुछ होता है तो इसकी जिम्मेदारी शासन व प्रशासन की होगी। जल त्यागने के बाद रात साढ़े 10 बजे प्रवीन काशी में जल की मात्रा कम हो गई तथा नब्ज भी कम चलने लगी। इस पर सूचना प्रशासन के पास पहुंची तो टोहाना के एसडीएम अनुभव मेहता, सिटी एसएचओ यादविंद्र सिंह मौके पर पहुंचे और प्रवीन को मनाने का प्रयास किया। प्रवीन को अस्पताल में भर्ती करवाया, जहां उनका ब्लड प्रैशर कम था व कीटोन की मात्रा कम थी। डॉक्टरों ने ड्रिप लगाने का प्रयास किया तो प्रवीन ने मना कर दिया। इस पर उन्हें ओआरएस का घोल मिलाकर पिलाया, जिस पर उनके स्वास्थ्य में सुधार आया।