ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
काउंसिल बैठक में लिया निर्णय
November 29, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

साल के अंत तक भरे जाएंगे एनआईटी में खाली शिक्षकों के पद, काउंसिल बैठक में लिया निर्णय

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री (एमएचआरडी) रमेश पोखरियाल निशंक की अध्यक्षता में बुधवार को हुई राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (एनआईटी) की 12वीं काउंसिल बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए ___ बैठक में साल के अंत तक कुल करीब 32 एनआईटी संस्थानों में रिक्त 2 हजार 200 फैकल्टी पदों को भरने का निर्णय किया गयामंत्रालय द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक इन नियुक्तियों में कार्यकाल को जांचने के लिए फैकल्टी भर्ती सिस्टम को लागू करने पर काउंसिल द्वारा सैद्धांतिक स्वीकृति दी गई है। इसके साथ ही भर्ती प्रक्रिया में गड़बड़ियां जांचने के लिए गठित की गई समिति की सिफारिशों को भी बैठक में स्वीकार किया गया। जिन एनआईटी और आईआईईएसटी में एससी, एसटी, शारिरिक रूपसे विकलांग और एमटेक के छात्रों की ट्यूशन फीस माफ नहीं की गई है। उन्हें भी इसे माफ करने का निर्देश दिया गया। साथ ही कुछ अन्य विषयों को अतिरिक्त विचार-विमर्श और पड़ताल करने के लिए काउंसिल की स्थाई समिति और मंत्रालय के स्तर पर मंथन करने के लिए छोड़ दिया। निर्णय लिया गया कि संस्थानों के सतत विकास के लिए भूकंपरोधी ढांचों के निर्माण, ग्राउंड वाटर की मौजूदगी को लेकर मैपिंग, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, रोबोटिक्स फॉर ह्यूमैनिटीज, वेस्ट को रिसाइकल करने के लिए तकनीक का विकास, साइबर सिक्योरिटी फार सस्टेंड एफर्ट एंड फोकस, क्लाइमेट डिजास्टर रेजीलिएंस, अर्बन रिस्क रिडक्शन, एयरोस्पेस, डिजीटल मैन्युफैक्चरिंग और सोलर थर्मल जैसे विषयों पर अगले दिनों में ध्यान केंद्रित किया जाएगा। बैठक में एनआईटी, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग साइंस एंड टेक्नोलॉजी (शिबपुर) के निदेशक, संस्थानों के बोर्ड ऑफ गवनर्स के अध्यक्ष और मंत्रालय के कई वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।