ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
करोड़ों का लगाया था चूना
November 28, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

कंपनी ने पुलिस को करोड़ों का लगाया था चूना, केस दर्ज

सड़कों पर रेडलाइट वॉयलेशन और ओवर स्पीड डिटेक्शन कैमरे लगाने का ठेका लेने वाली टरबो कंसल्टेंसी प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी के खिलाफ आर्थिक अपराध शाखा ने चीटिंग का केस दर्ज किया है। इस कंपनी के कारण ट्रैफिक पुलिस को करीब 9 करोड़ रुपये का चूना लगा था। बताया जाता है कि कंपनी कैमरे लगाने व उनके रखरखाव के काम को करने में विशेषज्ञ भी नहीं थी। बावजूद इसके कंपनी ने ट्रैफिक पुलिस को अंधेरे में रखकर टेंडर ले लिया था। एडिशनल सीपी, ईओडब्ल्यू ओपी मिश्र ने बताया कि यूनिट ने शिकायत पर एफआईआर दर्ज कर ली है और जांच की जा रही है। पुलिस के मुताबिक, साल 2000-17 के बीच ट्रैफिक पुलिस को चूना लगाया गया। पुलिस से पैसे लेकर कंपनी ने कई महंगे सामान खरीदे, लेकिन उनका ढंग से रख-रखाव नहीं किया गया। कैमरे खराब होते गए और फिर बंद पड़ गए। कंपनी को कैमरे लगाने के साथ ही उसके रख-रखाव की जिम्मेदारी भी दी गई थी। लेकिन बिना रखरखाव के महंगे उपकरण जल्दी ही कबाड़ में बदल गए। बाद में योजना पर पलीता कबाड़ में बदल गए। बाद में योजना पर पलीता लगता देख पूरे मामले की जांच दिल्ली पुलिस की विजिलेंस को सौंपी गई। मामले में बड़ा झोल पाने पर 2017 के बाद उस कंपनी से प्रोजेक्ट लेकर दूसरी कंपनी को सौंपा गया। मौजूदा समय में दूसरी कंपनी आरएलवीडी ओवर स्पीड कैमरों का काम संभाल रही है