ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
कार्यक्रम 'दीक्षारंभ'
November 27, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

नव प्रवेशित छात्र-प्रेरणा कार्यक्रम 'दीक्षारंभ'

चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर कॉलेज गुणवत्ता प्रकोष्ठ ने तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चित्र पर पुष्प अर्पित कर दीप प्रज्जवलित किया गया एवं सरस्वती वन्दना की प्रस्तुति छात्रा उमा वर्मा ने दी। प्राचार्य डॉ आशा गुप्ता की अध्यक्षता में कार्यक्रम प्रारंभ किया गया. मख्य अतिथि के रूप में डॉ. ललित शास्त्री वरिष्ठ पत्रकार , विशेष अतिथि सेवानिवृत्त पूर्व प्राचार्य डॉ. सिंह, अध्यक्ष संस्था की संरक्षक एवं प्राचार्य डॉ आशा गुप्ता ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम के संयोजक डॉ.एमएस राठौर ने कहा कि इस आयाजन का उददश्य नव प्रवाशत विद्यार्थियों को कालेज में भय मुक्त वातावरण उपलब्ध कराना एवं विद्यार्थियों का अपने शिक्षकों से परिचय और वरिष्ठ एवं कनिष्ठ विद्यार्थियों में सोहाद्रपूर्ण संबंध बनाना है। प्राचार्य डॉ. आशा गुप्ता ने अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में कहा कि विद्यार्थियों को गुणात्मक शिक्षा प्राप्त हो, वे वैश्विक चुनौतियां का सामना कैसे करें तथा उनकी प्रतिभा को कैसे सामने लाया जाए। शासन की योजनाओं का अधिक से अधिक विद्यार्थियों को लाभ मिले तथा महाविद्यालय के अध्ययन-अध्यापन व पुस्तकालय संबंधित संपूर्ण जानकारी विद्यार्थियों को मिल सके। इस उद्देश्य को लेकर इस प्रकार के कार्यक्रम को आयोजन नव प्रवेशित विद्यार्थियों के शास्त्री वा मुख्य अतिथिक्षता में कार्यक्रम सीहोर। कार्यक्रम में उपस्थित अतिथि और विद्यार्थीलिए विशेष उपयोगी है। मुख्य अतिथि डॉ.ललित शास्त्री ने कहा कि विद्यार्थियों को समाज हित में आगे आकर कार्य करने की आवश्यकता है। उनका सुझाव है कि उच्च शिक्षा में प्रवेश 12 वीं परीक्षा परिणाम घोषित हो जाने के 01 माह की अवधि में प्रवेश प्रक्रिया पूर्ण हो जानी चाहिए। इस तरह के कार्यक्रम में विद्यार्थियों के साथ उनके अभिवावको की उपस्थिति कार्यक्रम को सार्थक बनाने में मददगार होगी। उच्च शिक्षा से संबंधित जानकारी डॉ.पुष्पा दुबे द्वारा दी गई शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी डॉ. सुशीला पटेल, कॉलेज में कार्यक्रम वार्षिक परीक्षा पद्वति एवं सेमेस्टर प्रणाली, नामांकन, पाठ्यक्रम संबंधित समस्त जानकारी डॉ. एससीगुप्ता, एंटी रेगिंग, अनुशासन संबंधी जानकारी डॉ. आई.ए.दुर्रानी, स्टुडेण्ट ट्रेकिंग सिस्टम एवं कमजोर विद्यार्थियों में आत्मविश्वास, क्षमता और एकाग्रता को विकसित करने के लिए रेमेडियल कक्षाओं की जानकारी डॉ. तृप्ता झा द्वारा दी गई। स्नातक प्रथम वर्ष व स्नातकोत्तर प्रथम सेमेस्टर में प्रवेशित विद्यार्थियों के द्वारा इस कार्यक्रम का लाभ प्राप्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ.अनिल राजपूत द्वारा एवं आभार डॉ. कमलेश सिंह नेगी द्वारा किया गया