ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
जमकर चले लाठी-डंडे
November 21, 2019 • जगदीश सिकरवार • देश- विदेश

बसपा के कार्यकर्ता सम्मेलन में जमकर चले लाठी-डंडे

दोपहर करीब साढ़े 12 बजे आमंत्रित अतिथि मंच पर पहुंच गए। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सतीश मिश्रा के मंच पर पहुंचते ही कुछ युवक पार्टी के समर्थन में नारेबाजी करते हुए मंच के निकट पहुंच गए। मंच के पास पहुंचते ही इन युवकों के सुर बदल गए और उन्होंने मुर्दाबाद के नारे शरू कर दिए। जिस पर सम्मेलन में हंगामा हो गया। हंगामा होने पर सम्मेलन में अफरा-तफरी फैल गई। तभी पार्टी के कार्यकर्ता उन्हें बाहर करने लगे।

हंगामे के बीच चुपचाप खिसके सतीश मिश्र

इस हमले में दो कार्यकर्ता भी जख्मी हो गए। उधर, सम्मेलन में हंगामा होने पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद सतीश बिना ही धर्मशाला केबैक डोर से गाड़ी में सवार होकर निकल गए।

इसी बीच कुछ और युवक डंडे लेकर आए और पार्टी कार्यकर्ताओं को पीटना शुरू कर दिया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने झंडे लगे डंडों से बचाव शुरू किया। हंगामा करने वालों का आरोप था कि पार्टी ने पृथला विधानसभा चनाव में टिकट को क्षेत्र के बाहरी व्यक्ति को बेच दिया है।जो कार्यकर्ता पार्टी के लिए काम कर रहे हैं, उन्हें दरकिनार कर बाहरी व्यक्ति को टिकट दी गई है। करीब 6 मिनट तक डंडे चलते रहे। इसी बीच वहां पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस को देख युवक वहां से भाग खडे हो गए। रोजगार के नाम पर भाजपा ने युवाओं को ठगाः मिश्रा फरीदाबाद। बहुजन समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा ने भाजपा सरकार पर रोजगार के नाम पर युवाओं को ठगने का आरोप लगाते हुए कहा कि साल में दो करोडरोजगार देने का वायदा केवल जुमला ही साबित हुआ। उन्होंने कहा कि पांच सालों में युवाओं को रोजगार तो नहीं मिला परंतु बेरोजगारी की लम्बी फेहरिस्त जरुर बन गई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता को 15-15 लाख रुपये देने की घोषणा की और लोगों के खाते भी खुलवा दिए, लेकिन उनके खातों में 15 रुपये तक नहीं डाले गए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस-भाजपा एक सिक्के के दो पहलु हैं, बहुजन समाज पार्टी सर्व समाज की पार्टी है और इस बार हरियाणा में बहुमत से सरकार बनाएगी। सतीश चंद्र मिश्रा रविवार को आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में उपस्थितजनों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि हरियाणा में बसपा 50 से ज्यादा सीटें जीतेगी।