ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
दिल्ली और जयपुर में हवाला
November 25, 2019 • जगदीश सिकरवार • राज्य व शहर

दिल्ली और जयपुर में हवाला डीलरों पर ईडी की छापेमारी, 4.25 करोड़ की नकदी जब्त

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दिल्ली और जयपुर में कथित हवाला डीलरों पर छापेमारी में 4.25 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की है। एजेंसी ने शुक्रवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि इन हवाला डीलरों ने मुखौटा कंपनियां के जरिये करोडोंरुपये विदेश भेजे। ईडी ने कहा कि उसने विदेशी मुद्रा प्रबंधन कानून (फेमा) के तहत कैलाश खंडेलवाल और उनके भाई कमल खंडेलवाल पर छापेमारी की। ईडी ने बयान में कहा कि दोनों भाई ओर उनके देश और दुबई में बैठे आपरेटर विदेशों में विभिन्न स्थानों पर भारतीय लोगों और देश में रह रहे लोगों की मांग पर विदेशी मुद्रा अमेरिकी डॉलर, पाउंड, आरएमबी और यूरो की व्यवस्था करते थे।' इन लोगों ने दिल्ली और जयपुर में उनसे जडेनौ परिसरों पर छापेमारी में 4.25 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की। साथ ही आपत्तिजनक दस्तावेज भी जब्त किए गए हैं जिनसे पता चलता है कि मुखौटा कंपनियों के जरिये भारत और हांगकांग में लेनदेन किया गया। ईडीका आरोप है किदोनों भाई उनलोगों के लिएधन का प्रबंध करते थे जो पैसा देश से बाहर भेजना चाहते थे। यह पैसा नकद में और बैंक खातों केजरिये बाहर भेजा गया। नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत वर्तमान करीब 60 डॉलर से गिरकर 20 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकती है। तेल की मांग में गिरावट के संकेत मिल रहे हैं, जिससे इसकी कीमत घटकर 45 डॉलर प्रति बैरल तक आने का अनुमान है। यदि इसमें और गिरावट आती है, तो यह 30 या 20 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकता है। यह स्थिति हालांकि भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी होगी। यह बात रियल विजन गुप के सीईओ राउल पैन ने इकोनॉमिक टाइम्स को दिए एक साक्षात्कार में कही। कच्चे तेल का अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क माने जाने वाले बेंट कूड की कीमत अभी करीब 60 डॉलर प्रति बैरल चल रहा है।