ALL देश- विदेश राज्य व शहर शिक्षा व्यापार खेल धर्म मनोरंजन स्वास्थ्य फिल्मिदुनियाँ
छात्रावास और स्कूलों का निरीक्षण
November 25, 2019 • जगदीश सिकरवार • शिक्षा

आश्रम छात्रावास और स्कूलों का कलेक्टर ने किया औचक निरीक्षण

शिक्षा गुणवत्ता अभियान के तहत मंगलवार को कलेक्टर ने जिले के बैगा आदिवासी बाहूल पंडरिया विकासखण्ड के विभिन्न आश्रम छात्रावास और स्कूलों में अचानक पहुंचकर निरीक्षण किया। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण के पांडातराई हायर सेकेंडरी स्कूल का औचक निरीक्षण के दौरान पांच शिक्षक अनुपस्थित मिले। इस स्कूल में 24 शिक्षकों की व्यवस्था है। कलेक्टर ने स्कूल की अध्यापन कार्यों की व्यवस्था देखीं। सभी कक्षाओं में पहंचकर बच्चों से चर्चा की। कला संकाय के बच्चों से पाठ्यक्रम से संबंधित भारतीय इतिहास और भूगोल से जुड़े सवाल किए। कामर्स कक्षा में पहुंचकर बच्चों से एकाउंटेंट और अर्थव्यवस्था से जुड़े सवाल किए। बच्चों से अंग्रेजी विषय और व्याकरण से जुड़े सवाल किए। बच्चो से संतुष्टजनक जवाब नहीं मिलने पर कलेक्टर ने हायर सेकेंडरी स्कूल के प्राचार्य और संबंधित विषयों से शिक्षकों के प्रति कड़ी नाराजगी जताई। कलेक्टर ने विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी को इस स्कूल के सभी शिक्षकों को वनांचल क्षेत्रों में पोस्टिंग करने और वनाचंल क्षेत्रों के शिक्षकों को यहां पदस्थ करने के निर्देश दिए। कलेक्टर अवनीश कुमार शरण ने देवसरा, कुई, कुकदूर, पोलमी, कोदवागोदान में संचालित कन्या, बालक आश्रम.छात्रावासों का निरीक्षण किया। पांडातराई छात्रावास में सुरक्षागत कारणों की कमी की वजह से अधीक्षक कृष्णदत्त तिवारी को कारण बताओं नोटिस जारी किया। कलेक्टर ने 12 अलग-अलग कार्यों के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को समय सीमा में पुरा करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री शरण ने पांडातराई छात्रावास में मरम्मत कार्य के लिए सहायक आयुक्त को निर्देश दिए। कुई छात्रावास पहुंचमार्ग के लिए लोक निर्माण विभाग को निर्देश दिए। कुई में नए 500 सीटर छात्रावास की निर्माण कार्य में गति लाने के निर्देश दिए। पोलमी में संचालित विशेष पिछड़ी जनजाति बालक, बालिका शिक्षा परिसर में अगले माह से मध्यान्ह भोजन व्यवस्था सुचारू रूप से शुरू कराने के लिए निर्देश दिए। कोदवागोडान में बालिका छात्रावास में पेयजल व्यवस्था की कमी को दूर करते हुए नए हैंडपम्प खनन करने के निर्देश दिए। वहां सुरक्षा प्रहरी की व्यवस्था करने के लिए अनुविभागीय अधिकरी को निर्देश दिए। साथ ही सुरक्षा की दृष्टि से दीवारों के उपरी भाग में कॉटा तार लगाने के लिए पीडब्लूडी को निर्देश दिए। कलेक्टर ने सेन्दूरखार और रूखमीदादर अस्पताल को मरम्मत कार्य शुरू करने के लिए आरईएस एसडीओ को निर्देश दिए। आश्रम.छात्रावासों के बच्चों के नियमित स्वास्थ्य परीक्षण के लिए कुकदूर की मेडिकल अफसर को निर्देश दिए।

thehindu